Friday, July 22, 2011

जो पुल बनायेंगे
‘अज्ञेय’

जो पुल बनायेंगे
वे अनिवार्यत:
पीछे रह जायेंगे।
सेनाएँ हो जायेंगी पार
मारे जायेंगे रावण
जयी होंगे राम,
जो निर्माता रहे
इतिहास में
बंदर कहलायेंगे।

6 comments:

  1. मारे जायेंगे रावण
    जयी होंगे राम,
    जो निर्माता रहे
    इतिहास में
    बंदर कहलायेंगे।


    यथार्थपरक रचना.... हार्दिक बधाई।

    ReplyDelete
  2. सुन्दर भावाभिव्यक्ति ||
    बधाई ||

    ReplyDelete
  3. बहुत अच्छी रचना पढ़वाई आपने।

    ReplyDelete
  4. बहुत ही रचनात्मक कृति |आभार

    ReplyDelete
  5. निर्माताओं को यही संज्ञा मिलती है।

    ReplyDelete